The Importnace of Public Speaking | पब्लिक स्पीकिंग कि आज के दौर में आवश्यकता

The Importnace of Public Speaking | पब्लिक स्पीकिंग कि आज के दौर में आवश्यकता

The Importnace of Public Speaking | पब्लिक स्पीकिंग कि आज के दौर में आवश्यकता: मैं सतीश कुमार आपका हार्दिक अभिनन्दन करता हुँ। मैंने लगभग 2004 से संगीत सीखना शुरू किया।संगीत गायन M.A.किया। संगीत में बहुत अधिक रुचि ना होने के कारण 8,10,15, हजार रूपये मासिक वेतन पर नोकरी की। कॉलेज की पढ़ाई फिर जॉब के …

Read moreThe Importnace of Public Speaking | पब्लिक स्पीकिंग कि आज के दौर में आवश्यकता

अपने आप को देखे आप कैसे वक्ता है

अपने आप को देखे आप कैसे वक्ता है

अपने आप को देखे आप कैसे वक्ता है: देखिये दोस्तो वक्ता होना एक अलग बात है। और एक अच्छा वक्ता होना अलग बात है। एक साधारण बोलने वाले या मंच संचालक को हो सकता है श्रोता मुफ़्त में सुनना भी पसन्द न करें। और एक अच्छे वक्ता या प्रेरक को लोग हजारों रुपये देकर सुनते …

Read moreअपने आप को देखे आप कैसे वक्ता है