Shayari and Speech in Hindi for Farewell | Vidai Shayari | विदाई समारोह की शायरी

25+ Amazing Shayari and Speech in Hindi for Farewell | Vidai Shayari

शायरी

Speech in Hindi for Farewell

सबसे पहले आपको Swami Ji चैनल की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं।

आपको एक बात जान लेनी अति आवश्यक है कि शायरी किसी भी विशेष कार्यक्रम के लिए विशेष नहीं होती।एक दो हो तो अच्छी बात है नहीं तो आपके पास अगर ख़ुबसूरत शब्दजाल है तो आप किसी भी शैर को किसी भी कार्यक्रम में अपने जादुई शब्दजाल से प्रयोग करते हुए माहौल को चार चांद लगा देंग


विदाई समारोह में कोई भी कक्षा के विद्यार्थी  इस तरह से भाषण दे सकते हैं। भाषण का आरम्भ शायरी से कीजिये।
                       

Farewell Shayari in Hindi

खूबियाँ इतनी तो नही हम मे 
कि तुम्हे कभी याद आएँगे
पर इतना तो ऐतबार है हमे खुद पर
आप हमे कभी भूल नही पाएँगे

इन्हीं चार पक्तियों के साथ आप सभी को  आज के इस खुशियों से भरे विदाई दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।सर्वप्रथम प्रिंसिपल सर और हमारे टीचर स्टाफ का धन्यवाद जो हमें ये कार्यक्रम आयोजन करने की आज्ञा दी।

हमने ख़ूब अच्छा समय बिताया।हम आज एक दूसरे से बिछड़ रहें हैं लेकिन दिल से हमेशा एक दूसरे को याद करेंगे।मैं मेरे सन्देश में यही कहूंगा कि हम ऐसे जियें की लोग याद करें।इंसानियत के रास्ते पर चलें।आज स्कूल से विदा हो रहे हैं कल जिंदगी से विदा हो जाएंगे।जरूरत है हमे आपस में स्नेह से रहने की।शायद हर किसी की हार्दिक इच्छा होती है की दूसरे उसे सराहें ,याद करें।पर ये इतना आसानी से होता नहीं।श्रद्धा और समर्पण भाव से कोई याद।कई बार पास मे रहने वाले का एहसास नहीं होता।कई लोग दूर होकर भी रह रहकर याद आते हैं

“हर फ़ूल बाग़ में लगाए नहीं जाते
हर लोग महफ़िल में बुलाए नहीं जाते
कोई तो पास होकर भी याद नहीं आता
कुछ दूर होकर भी भुलाये नहीं जाते”

बस जहां भी जाएं कुछ ऐसा करें कि ख़ुद को भी खुशी मिले और दूसरें भी खुश रहें।व्यवसायिक युग है।सभी अच्छे अच्छे पदों पर व्यापार, तकनीक में सफलता प्राप्त करने के साथ साथ किसी के दिल में उतरने का जज़्बा भी कायम करें।समापन पर यही कहूंगा इन पंक्तियों के साथ

अगर तालाश करूँ तो कोई मिल जायेगा
मगर आपकी तरह कौन हमें चाहेगा
आपके साथ से ये मंजर फरिश्तों जैसा है
आपके बाद में मौसम बहुत सतायेगा

इन्हीं शब्दों के साथ आपका धन्यवाद

Vidai Shayari in Hindi Video

 

Vidai Shayari in Hindi

हमने मांगा था साथ उनका
वो जुदाई का गम दे गए
हम यादों के सहारे जी लेते
वो भूल जाने की कसम दे गए

सिर्फ एक सफ़ाह पलट कर उसने
बीती बातों की दुहाई दी है
फिर वहीं लौट के आ जाना
यार ने कैसी रिहाई दी है

मिलना बिछड़ना दुनिया की रीत है
इस रीत को ख़ुशी से निभाते रहो
पता नहीं कब किससे दिल मिल जाए
जो भी मिले राहों में दोस्त बनाते रहो

तुम्हारा घर हमेशा रोशनी से जगमगाऊंगा
चरागों की खुशामद मत करो मैं दिल जलाऊंगा
तुम्हे जिस दिन यकीन हो जाए मुझमें खूबियां भी है
मुझे आवाज दे देना मैं वापस लौट आऊंगा

किसने कहा जुदाई होगी
ये बात किसी और ने फैलाई होगी
हम तो आपके दिल में रहेंगे आख़िर
हमारी दोस्ती में इतनी तो सच्चाई होगी

उदास क्या होना बदहवास क्या होना
फ़ूल का तो मुकद्दर है डाली से जुदा होना

दिल के दर्द छुपाना कितना मुश्किल है
टूट कर फिर मुस्कुराना कितना मुश्किल है
दूर तक चलो किसी के साथ तो
फिर तन्हा लौट कर आना कितना मुश्किल है

तेरी निगाहे पाक की लहरों में बह गए
कहना था अलविदा तेरे होकर रह गए

आखिरी अलविदा कहते हैं
हो सके तो स्वीकार कर लेना
जब भी मिले वक्त आपको
तो हमें याद कर लेना

गुजरा वक्त दिल की बात सुनाएगा
कभी साथ थे हर पल याद आयेगा
गौर से पलटना ज़िन्दगी के पन्नों को
कभी न कभी तो हमारा नाम भी नज़र आएगा

खूबियाँ इतनी तो नही हम में कि तुम्हे कभी याद आएँगे
पर इतना तो ऐतबार है हमे खुद पर
आप हमे कभी भूल नही पाएँगे

अगर तालाश करूँ तो कोई मिल जायेगा
मगर आपकी तरह कौन हमें चाहेगा
आपके साथ से ये मंजर फरिश्तों जैसा है
आपके बाद में मौसम बहुत सतायेगा

तुमसे दूरी का एहसास सताने लगा है
तेरे साथ गुजरा हर लम्हा याद आने लगा है
जब भी भूलने की कोशिश की ऐ दोस्त
तू दिल के और भी करीब नज़र आने लगा है

कल न हम होंगे, और ना कोई गिला होगा,
सिर्फ सिमटी हुई यादों का सिलसिला होगा, ,
जो लम्हे हैं चलो हँस कर बितालें ,
जाने जिन्दगी का कल क्या फैसला होगा ।

हर फ़ूल बाग़ में लगाए नहीं जाते
हर लोग महफ़िल में बुलाए नहीं जाते
कोई तो पास होकर भी याद नहीं आता
कुछ दूर होकर भी भुलाये नहीं जाते

अबके बिछड़े तो शायद हम किताबों में मिले
सूखे हुए फ़ूल जैसे किताबों में मिले

कुछ रिश्ते अनजाने में बन जाते हैं
पहले दिल से फिर जिंदगी से जुड़ जाते हैं
कहते हैं उस दौर को दोस्ती जिसमें
अनजाने ना जाने कब अपने बन जाते हैं

अपनी सांसो में आबाद रखना मुझे
मैं रहूं ना रहूं याद रखना मुझे

सिर्फ एक सफ़ाह पलट कर उसने
बीती बातों की दुहाई दी है
फिर वहीं लौट के आ जाना
यार ने कैसी रिहाई दी है

हमने मांगा था साथ उनका
वो जुदाई का गम दे गए
हम यादों के सहारे जी लेते
वो भूल जाने की कसम दे गए

तुम्हारा घर हमेशा रोशनी से जगमगाऊंगा
चरागों की खुशामद मत करो मैं दिल जलाऊंगा
तुम्हे जिस दिन यकीन हो जाए मुझमें खूबियां भी है
मुझे आवाज दे देना मैं वापस लौट आऊंगा

मिलना बिछड़ना दुनिया की रीत है
इस रीत को ख़ुशी से निभाते रहो
पता नहीं कब किससे दिल मिल जाए
जो भी मिले राहों में दोस्त बनाते रहो

हजारों मंजिलें होंगी
हजारों कारवाँ होंगे
निगाहें आपको ढूढेंगी
न जाने आप कहाँ होंगे

उदासी तबीयत पे छा जायेगी
जब मुझे तेरी याद आएगी

 

You can also visit our shayries for different topics as given Below:

1. Starting Anchiring Script with Smile Shayari in Hindi: Click Here

2. Republic Day Anchoring Script in Hindi: Click Here

3. Republic Day Speech in Hindi, 26 जनवरी भाषण: Click Here

4. 25+ Amazing Shayari and Speech in Hindi for Farewell | Vidai Shayari:  Click Here

5.Welcome Letter Shayari in Hindi | अभिनन्दन पत्र शादी शायरी : Click Here

6. Happy Birthday Shayari | जन्मदिन शायरी :  Click Here

 

2 thoughts on “25+ Amazing Shayari and Speech in Hindi for Farewell | Vidai Shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *